जानें SBI सैलरी अकाउंट में क्या-क्या देता है मुफ्त | Benefits of SBI Salary Account | Latest News for Government Employees | 7th Pay Commission Latest News - Government Staff

Live Cricket Score

August 07, 2019

जानें SBI सैलरी अकाउंट में क्या-क्या देता है मुफ्त | Benefits of SBI Salary Account | Latest News for Government Employees | 7th Pay Commission Latest News

SBI Salary Account: जानें SBI सैलरी अकाउंट में क्या-क्या देता है मुफ्त 

नई दिल्ली। एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) में कई तरह के फायदे देता है। यह फायदे श्रेणी के हिसाब से मिलते हैं। हालांकि सबसे पहले यह जानना जरूी है कि आपका अकाउंट किसी श्रेणी में आता है।

· अगर आपकी सैलरी 5000 रुपये से 20,000 रुपये है तो आप सिल्वर श्रेणी में आते हैं।

· अगर सैलरी 20,000 रुपये से 50,000रुपये के बीच है तो आप गोल्ड श्रेणी में आते हैं।

· अगर सैलरी 50,000 रुपये से 1 लाख रुपये तक वेतन वाले डायमंड में श्रेणी में आते हैं।

· अगर सैलरी 1 लाख रुपये से ज्यादा सैलरी वाले प्लेटिनम श्रेणी में आते हैं।



बढ़वा सकते हैं एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) की श्रेणी

इस श्रीणी के हिसाब से ही एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) में सुविधाएं मिलती हैं। हर श्रेणी के हिसाब से बैंक डेबिट कार्ड (Debit Card) जारी करता है। लेकिन अगर आपको लगता है कि आपके अकाउंट की श्रेणी आपके वेतन के अनुरूप नहीं है तो आप अपनी श्रेणी को बढ़वाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपनी वेतन की स्लिप के साथ आवेदन करना होगा। एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) में सैलरी केवल कॉर्पोरेट इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से एंप्लॉयर की तरफ से ही पैसा ट्रांसफर की छूट होती है। अगर हर माह सैलरी नहीं आएगी तो बैंक ऐसे अकाउंट का स्टेटस बदल सकता है।

SBI Salary Account में कैसे आता है रिइंबर्समेंट

कुछ कंपनी सैलरी का कुछ हिस्सा रिइंबर्समेंट (Reimbursement) के तौर पर कर्मचारियों को देती है। इसके लिए एक अलग से खाता खुलवाना पड़ता है। जिन लोगों का SBI में सैलरी अकाउंट है उन लोगों का रिइंबर्समेंट अकाउंट (Reimbursement Account) खोला जाता है। ये रिइंबर्समेंट अकाउंट मेन अकाउंट से लिंक होता है, जिसमें जीरो बैलेंस की सुविधा दी जाती है। इस रिइंबर्समेंट अकाउंट (Reimbursement Account) पर कोई मेंटेनेंस चार्ज नहीं देना होता है। एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) में मिलने वाला डेबिट कार्ड रिइंबर्समेंट अकाउंट से लिंक किया जा सकता है।


एसबीआई सैलरी अकाउंट (SBI Salary Account) के फीचर

-जीरो बैलेंस अकाउंट (Zero balance account)

-फ्री अनलिमिटेड ट्रांजेक्शन (Free Unlimited Transaction) किसी भी बैंक के एटीएम (atm) से

-फ्री एटीएम कम डेबिट कार्ड (Free ATM-Debit Card)

-संयुक्त अकाउंट होल्डर के लिए एटीएम कार्ड (ATM Card)

-फ्री इंटरनेट बैंकिंग (Free internet banking)

-फ्री मल्टीसिटी चेक (Free multicity check)

-लॉकर चार्ज (Locker charge) पर 35 फीसदी की छूट

-फ्री ड्राफ्ट, एसएमएस अलर्ट, ऑनलाइन NEFT/RTGS

-2 महीने की सैलरी पर ओवरड्राफ्ट की सुविधा (Overdraft on salaries)


नौकरी (job) बदलने या जानें पर क्या होगा

अगर आप नौकरी (job) बदलते हैं और उस कंपनी का भी अगर एसबीआई (sbi) में सैलरी अकाउंट (Salary Account) तो आप अपनी नई कंपनी से अपने पुराने सैलरी अकाउंट में सैलरी देने के लिए कह सकते हैं। अगर किसी वजह से लगातार 3 महीने तक आपकी सैलरी इस सैलरी अकाउंट में नहीं आती है तो आपका ये खाता SBI के आम सेविंग अकाउंट (Saving account) में बदला जा सकता है। ऐसे में आपको आम सेविंग अकाउंट पर मिलने वाली सभी सुविधाएं दी जाती हैं और सामान्य चार्ज लगते हैं।


No comments:

Post a Comment